About me – मैं जन्म से शाकाहारी हूँ, लेकिन वो शाकाहारी होना मेरी आज की परिभाषा में बिलकुल भी फिट नहीं बैठता, इसलिए मैं अपने आप को जन्म से गैर शाकाहारी या अशाकाहारी जो भी उचित लगे कहलाना चाहूंगा जो कि अंग्रेजी के non vegetarian का हिंदी अनुवाद कहा जा सकता है। हिंदी में शाकाहारी और माँसाहारी शब्द प्रयोग किये जाते हैं लेकिन अपने जीवन में पशु-दूध का सेवन करने वालों के लिए कोई उपयुक्त शब्द नहीं है।

जो लोग शाकाहारी हैं और पशु-दूध का सेवन करते हैं उन्हें शाकाहारी कहना शाकाहारी शब्द की गरिमा को गिरना ही कहा जा सकता है और मांसाहारी कहना उन्हें ठेस पहुंचा सकता है। मेरे अनुसार ऐसे व्यक्तियों को जो मांस को छोड़ अन्य पशु उत्पाद जैसे दूध, दूध से बने उत्पाद और शहद इत्यादि का सेवन अपने भोजन में करते हैं उन्हें गैर शाकाहारी (non vegetarian) कहना ही उपयुक्त लगता है। इस तरह तीन वर्ग हो सकते हैं शाकाहारी, गैर शाकाहारी और माँसाहारी।

वैसे तो ऐसे लोग जो किसी भी तरह के पशु-उत्पादों का सेवन नहीं करते उन्हें वीगन कहा जाता है लेकिन वीगन शब्द हमारी संस्कृति में नहीं है इसलिए अक्सर पश्चिमी संस्कृति का बता कर इसका विरोध भी होता है।

हाल ही में वीगन शब्द के लिए हिंदी में भी एक शब्द गढ़ा गया है निरवद्य लेकिन वह अभी प्रचलित नहीं है।

कुल मिला कर मैं अपने इस ब्लॉग में हर वह बात लिखना चाहता हूँ जो समाज में पशु-दूध के बारे में फैली मिथ्या अवधारणा को दूर कर लोगों को अपने जीवन में पशु-दूध का सेवन न करने के लिए प्रेरित करे।

आप अपने प्रश्न और सुझाव सीधे contact[at]ditchdairy.in पर अथवा contact पेज से भेज सकते हैं

धन्यवाद !

चेतन पाड़लिया

Be the first to reply

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *