डेयरी गायों का शोषण भी एक नारीवाद का मुद्दा है #MooToo आंदोलन

यह समय है प्रजातियों की परवाह किए बिना सभी मादाओं का सम्मान करने का, नारीवाद को मानव प्रजाति से बाहर अन्य प्रजातियों में भी मुखर करने का। #MooToo आंदोलन #MeToo को कम नहीं करता बल्कि यह दिखाता है कि नारी […]

क्या “गाय माता” के मिथक को तोड़ेगा गधी का दूध?

“गाय माता” की महिमा हमारे देश में किसी जूनून से कम नहीं है। पीढ़ी दर पीढ़ी हमारे देश में यही सिखाया जाता रहा है कि गाय हमें दूध देती है इसलिए गाय हमारी माता है। हमारे धार्मिक ग्रंथों में न […]